समर्थक

Sunday, September 01, 2013

तुम गोकुल में मत आना: चर्चा मंच-1355


"जय माता दी" रु की ओर से आप सबको सादर प्रणाम. चलते हैं आप सभी के चुने हुए प्यारे लिंक्स पर.

प्रस्तुतकर्ता : Sadhana Vaid


प्रस्तुतकर्ता : Naveen Mani Tripathi

प्रस्तुतकर्ता : Kiran Arya
प्रस्तुतकर्ता : Ranjana Bhatia

प्रस्तुतकर्ता : Aarsi Chauhan
प्रस्तुतकर्ता : प्रतिभा सक्सेना
प्रस्तुतकर्ता : शकुन्‍तला शर्मा
प्रस्तुतकर्ता : सिद्धार्थ शंकर त्रिपाठी
प्रस्तुतकर्ता : प्रवीण पाण्डेय
प्रस्तुतकर्ता : निहार रंजन
प्रस्तुतकर्ता : Sehar
प्रस्तुतकर्ता : Dr. Pratibha Sowaty

प्रस्तुतकर्ता : Asha Saxena

प्रस्तुतकर्ता : Hitesh Rathi


प्रस्तुतकर्ता : Rekha Joshi


प्रस्तुतकर्ता : रेखा श्रीवास्तव


प्रस्तुतकर्ता : Neeraj Kumar


प्रस्तुतकर्ता : Aamir Dubai


प्रस्तुतकर्ता : काजल कुमार

इसी के साथ आप सबको शुभविदा मिलते हैं रविवार को. आप सब चर्चामंच पर गुरुजनों एवं मित्रों के साथ बने रहें. आपका दिन मंगलमय हो


जारी है 'मयंक का कोना'

प्रधानमंत्री जी को गुस्सा क्यों आता है !

पूरण खण्डेलवाल at शंखनाद -  







दिखा अंगूठा दे खुदा, करता भटकल रोष-रविकर 

दिखा अंगूठा दे खुदा,  करता भटकल रोष |
ऊपर उँगली कर तभी, रहा खुदा को कोस |

रहा खुदा को कोस, उसे ही करे इशारा |
मारे कई हजार, कहाँ है स्वर्ग हमारा |

रविकर दिया जवाब, मिला जो जेल अनूठा |
यही तुम्हारा स्वर्ग, चिढ़ा तू दिखा अंगूठा ||  

टला फैसला दस दफा, लगी दफाएँ बीस |
अंध-न्याय की देवि ही, खड़ी निकाले खीस |

खड़ी निकाले खीस, रेप वह भी तो झेले |
न्याय मरे प्रत्यक्ष, कोर्ट के सहे झमेले |

नाबालिग को छूट, बढ़ाए विकट हौसला |
और बढ़ेंगे रेप, अगर यूँ टला फैसला ||

18 comments:

  1. शुभ प्रभात |चटपटी लिंक्स से सजा आज का चर्चा मंच |
    मेरी रचना शामिल करने के लिए आभार

    ReplyDelete
  2. बहुत सुन्दर प्रस्तुति..
    ---

    हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल {साप्ताहिक चर्चामंच} पर आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल में दूसरी चर्चा {रविवार} (01-09-2013) को हम-भी-जिद-के-पक्के-है -- हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल चर्चा : अंक-002 को है। कृपया पधारें, आपके विचार मेरे लिए "अमोल" होंगें | आपके नकारत्मक व सकारत्मक विचारों का स्वागत किया जायेगा |
    ---
    सादर ....ललित चाहार

    ReplyDelete
  3. बहुत ही सुन्दर लिंक्स का संकलन . आभार.

    ReplyDelete
    Replies

    1. हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल {साप्ताहिक चर्चामंच} पर आपको सूचित करते हुए हर्ष हो रहा है कि हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल में दूसरी चर्चा {रविवार} (01-09-2013) को हम-भी-जिद-के-पक्के-है -- हिंदी ब्लॉगर्स चौपाल चर्चा : अंक-002 को है। कृपया पधारें, आपके विचार मेरे लिए "अमोल" होंगें | आपके नकारत्मक व सकारत्मक विचारों का स्वागत किया जायेगा |
      ---
      सादर ....ललित चाहार

      Delete
  4. वाह। । सुन्दर प्रस्तुति। । कभी मेरी रचनाये भी देखें …. आभार

    ReplyDelete
  5. सुन्दर रोचक, पठनीय सूत्रों से सजा चर्चा, आभार

    ReplyDelete
  6. अच्छी प्रस्तुतियाँ पढने में आनन्द आया .साधना बैद जी के ब्लाग पर टिप्पणी देना चाहती थी पर वहाँ ,भरने के लिए एक फ़ार्म सामने आ जाता है.कान्हा भी तो समझें कि यहाँ की स्थिति कैसी हो गई है ,सही कह रही हैं साधना जी .
    मुझे सम्मिलित करने के लिए आभार !

    ReplyDelete
  7. बहुत सुंदर सूत्रों से सजी है चर्चा !

    ReplyDelete
  8. बहुत सुंदर चर्चा है आज की अरुन जी ! 'सुधीनामा' से मेरी पोस्ट को आपने इसमें सम्मिलित किया उसके लिये आपका धन्यवाद एवँ आभार !

    ReplyDelete
  9. बहुत सुन्दर सूत्रों से सजी सुन्दर चर्चा !!
    सादर आभार !!

    ReplyDelete
  10. बढ़िया चर्चा-
    सुन्दर लिंक्स-
    आभार अरुण जी-
    आभार गुरुवर

    ReplyDelete
  11. मेरे पोस्ट को शामिल करने के लिए धन्यवाद.

    ReplyDelete
  12. MUJHE KHUSHI HUI -------- APNA ANIMATED HAIGA YAHA DEKHKAR / THNX ARUN SHARMA JI

    ReplyDelete
  13. बहुत सुन्दर सूत्रों से सजी सुन्दर चर्चा !!

    ReplyDelete

"चर्चामंच - हिंदी चिट्ठों का सूत्रधार" पर

केवल संयत और शालीन टिप्पणी ही प्रकाशित की जा सकेंगी! यदि आपकी टिप्पणी प्रकाशित न हो तो निराश न हों। कुछ टिप्पणियाँ स्पैम भी हो जाती है, जिन्हें यथा सम्भव प्रकाशित कर दिया जाता है।

LinkWithin